logo

फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी): सुरक्षित रिटर्न चाहने वाले निवेशकों के लिए एक सही विकल्प!

By Nivesh Gyan   4 जनवरी

Category: Better Than FDs

फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान्स (FMPs) क्या हैं?

FMP क्लोज एंडेड डेट फंड होते हैं जिनकी एक विशिष्ट अवधि होती है, यानी एक निवेशक सिर्फ न्यू फंड ऑफर (NFO) की अवधि के दौरान ही इनमें निवेश कर सकता है।

अवधि एक महीने से पांच साल तक हो सकती है, लेकिन आम तौर पर यह लगभग 3 साल के लिए होती है।

 

फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान्स (FMPs) कहां निवेश करते हैं?

  • FMP फिक्स्ड इनकम सिक्योरिटीज जैसे डिपॉजिट सर्टिफिकेट (CDs), कमर्शियल पेपर्स (CPs), मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स और हाई-रेटेड सिक्योरिटीज (जैसे A AAA’-रेटेड कॉर्पोरेट बॉन्ड) में निवेश करते हैं।
  • निवेश पोर्टफोलियो में वो फिक्स्ड इनकम इंस्ट्रूमेंट्स होते हैं जिनकी मैच्योरिटी का समय सामान होता है ।
  • उदाहरण के लिए, यदि FMP चार साल के लिए है, तो फंड मैनेजर चार साल या उससे कम की मैच्योरिटी वाले उपकरणों में निवेश करेगा। यह निवेशक को ब्याज दर की अस्थिरता से बचाता है और सांकेतिक रिटर्न्स का अंदाजा देने में मदद करता है।

फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी) कैसे काम करते हैं?

  • FMPs स्टॉक एक्सचेंजों पर लिस्टेड होते है।
  • निवेशक केवल NFO के समय ही निवेश कर सकते हैं।
  • निवेशक मैच्योरिटी से पहले पैसा निकाल नहीं सकता, लेकिन उन्हें स्टॉक एक्सचेंज में बेच सकता है।

आपको फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी) में निवेश क्यों करना चाहिए?

  • अस्थिर ब्याज दरों के खिलाफ सुरक्षा: चूंकि एफएमपी ऋण उपकरणों में निवेश करते हैं, इसलिए इक्विटी फंडों की तुलना में उतार-चढ़ाव की संभावना कम होती है। इसके अलावा, चूंकि सिक्योरिटीज मैच्योरिटी तक होती हैं, इसलिए एफएमपी ब्याज दर की अस्थिरता से प्रभावित नहीं होते हैं।
  • क्यूंकि इन्हें मैच्योरिटी तक रखा जाता है, इसलिए खरीद और बिक्री में होने वाले खर्च की बचत होती है।

फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) की तुलना में फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान कैसे बेहतर होते हैं?

  • इंडेक्सेशन बेनिफिट्स के कारण एफएमपी फिक्स्ड डिपॉजिट्स (एफडी) की तुलना में बेहतर टैक्स रिटर्न देते हैं।
  • तीन साल से अधिक की मैच्योरिटी वाले एफएमपी में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स का लाभ प्राप्त होता है। इंडेक्सेशन कैपिटल गेन्स को कम करने में मदद करता है और इस तरह टैक्स को कम करता है।
फिक्स्ड डिपॉजिट फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान
रिटर्न फिक्स्ड (~7-7.5%) अधिकतर एफडी से ज़्यादा
टैक्सेशन ब्याज आय को आय में जोड़ा जाता है और टैक्स इनकम स्लैब के मुताबिक एफएमपी-डिविडेंड: डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स लागू एफएमपी-ग्रोथ: कैपिटल गेन पर अवधि के अनुसार टैक्स

फिक्स्ड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी) में किसे निवेश करना चाहिए?

  • निवेशक जिन्हें निश्चित अवधि में स्थिर और सुरक्षित रिटर्न की तलाश हैं।
  • एफएमपी-डिविडेंड में निवेश करने वालों को नियमित डिविडेंड मिलता है। कर-प्रभावी (tax-efficient) नियमित आय की तलाश करने वाले निवेशकों के लिए यह सही विकल्प है।