logo

आयकर सीमा में छूट बजट 2019 की एक प्रमुख घोषणा; अगले साल के लिए अपनी बचत की योजना बनाएं!

By Nivesh Gyan   7 फ़रवरी

Category: Save Tax

Income Tax Limit Relaxation a major highlight of Budget 2019

 

वर्तमान सरकार द्वारा प्रस्तुत अंतरिम बजट अपेक्षित लाइनों पर था, जहां उन्होंने राजकोषीय विवेक को बनाए रखने की कोशिश करते हुए और आगामी आम चुनावों पर नजर रखते हुए आबादी के बड़े क्षेत्रों को लाभ देने की कोशिश की। सरकार ने आयकर सीमा में ढील देने के अपने लंबे वादे को पूरा करने की कोशिश की है।

इससे प्रतिवर्ष 9 लाख तक की आय के लिए महत्वपूर्ण बचत होगी। हमने नीचे दी गई तालिकाओं में बचत का चित्रण किया है।

हम आपको आपके दीर्घकालिक (लॉन्ग-टर्म) लक्ष्यों को पूरा करने के लिए  इस बचत में से एसआईपी के ज़रिये नियमित निवेश करने की सलाह देते हैं। पैसा खर्च करना बहुत आसान है लेकिन बचत करना और निवेश करना मुश्किल है। लेकिन आप सोचिये कि अगर इन कर छूटों की घोषणा नहीं की गई होती। आप अपने खर्चे फिर भी पूरे करते। तो फिर क्यों न बचत और निवेश की शुरुआत की जाएँ!

इसके अलावा, बजट ने महत्वपूर्ण घोषणाएं भी कीं जो किसानों और असंगठित श्रमिकों को लाभान्वित करेंगी। बाजार को बजट से सकारात्मक संकेत मिलने चाहिए। हालांकि, आगामी चुनाव के कारण मई 2019 तक अस्थिरता बनी रहेगी।

प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक की आय पर कोई कर नहीं: मध्यम वर्ग के लिए एक बड़ा वरदान

Scenario 1
वार्षिक आय @ ₹ 4.5 lakhs
बजट से पहले
बजट के बाद
वार्षिक आय
₹ 4,50,000
₹ 4,50,000
टैक्सेबल आय
₹ 4,50,000
₹ 4,50,000
टैक्स
₹ 10,000 (5% of ₹ 2,00,000)
₹ 0 (शून्य)
टैक्स बचत
₹ 10,000

  

Scenario 2
वार्षिक आय @ ₹ 6.5 lakhs
बजट से पहले
बजट के बाद
वार्षिक आय
₹ 6,50,000
₹ 6,50,000
Less: स्टैण्डर्ड डिडक्शन
₹ 40,000
₹ 50,000
Less: ELSS निवेश
₹ 1,50,000
टैक्सेबल आय
₹ 6,10,000
₹ 4,50,000
टैक्स
₹ 12,500 (5% of 2,50,000)
+ ₹ 22,000 (20% of 1,10,000)
= ₹ 34,500
₹ 0 (शून्य)
टैक्स बचत
₹ 34,500

  

Scenario 3
वार्षिक आय @ ₹ 9 lakhs
बजट से पहले
बजट के बाद
वार्षिक आय
₹ 9,00,000
₹ 9,00,000
Less: स्टैण्डर्ड डिडक्शन
₹ 40,000
₹ 50,000
Less: ELSS निवेश
₹ 1,50,000
Less: होम लोन पर ब्याज
₹ 2,00,000
टैक्सेबल आय
₹ 8,60,000
₹ 5,00,000
टैक्स
₹ 12,500 (5% of 2,50,000)
+ ₹ 72,000 (20% of 3,60,000)
= ₹ 84,500
₹ 0 (शून्य)
टैक्स बचत
₹ 84,500